Logo Jago pahad news

पंच बद्री का परिचय – Introduction of Panch Badri

पंच बद्री का परिचय – Introduction of Panch Badri

पंच बद्री का परिचय - Introduction of Panch Badri
पंच बद्री का परिचय – Introduction of Panch Badri

पंच बद्री हिंदू मंदिर हैं जो भगवान विष्णु को समर्पित हैं। ये मंदिर हैं – विशाल बद्री (बद्रीनाथ), वृद्ध बद्री, आदि बद्री, योगध्यान बद्री, और भविष्य बद्री। इन मंदिरों में भगवान बद्रीनाथ को अलग-अलग नामों से पूजा जाता है। सतोपंथ से नंदप्रयाग तक का क्षेत्र बद्री-क्षेत्र के नाम से जाना जाता है।

1. विशाल बद्री: यह मुख्य श्री बद्री नारायण मंदिर है, जो चमोली जिले में स्थित है और 108 दिव्य देशमों में गिना जाता है।

2. योगध्यान बद्री: बद्रीनाथ से 24 किमी और जोशीमठ से 20 किमी दूर स्थित यह स्थान है जहां महाराज पांडु ने प्रार्थना की थी। यहां भगवान विष्णु की ध्यान मुद्रा में मूर्ति है।

3. भविष्य बद्री: जोशीमठ से 17 किमी दूर स्थित इस छोटे से गाँव का मानना है कि यह भविष्य में प्रमुख बद्रीनाथ तीर्थ स्थल बनेगा।

4. वृद्ध बद्री: जोशीमठ से 17 किमी दूर आनिमथ में स्थित है। कहा जाता है कि यहां आदि शंकराचार्य ने भगवान बद्रीनाथ की पूजा की थी।

5. आदि बद्री: कर्णप्रयाग से 16 किमी दूर स्थित है। यहाँ गुप्त वंश के कई मंदिर हैं, जिनमें माणा नारायण मंदिर सबसे लोकप्रिय है। यहाँ भगवान विष्णु की काले पत्थर की मूर्ति है।

यह भी पढ़ें :- श्री बद्रीनाथ धाम मंदिर

Join WhatsApp Group
Jago Pahad Desk

"जागो पहाड" उत्तराखंड वासियों को समाचार के माध्यम से जागरूक करने के लिए चलाई गई एक पहल है।

http://www.jagopahad.com