Logo Jago pahad news

30+ Psychology facts in hindi (जो बदल देगी आपकी सोच)

Here are interesting psychology facts in Hindi:

  • हमारी याददाश्त तस्वीरों से बेहतर होती है: अध्ययन बताते हैं कि चित्रों या दृश्यों के माध्यम से सीखना पाठ्यपुस्तकों को पढ़ने की तुलना में अधिक प्रभावी होता है।
Our memory is improved by pictures: Studies show that learning through pictures or visuals is more effective than reading textbooks.
Our memory is improved by pictures: Studies show that learning through pictures or visuals is more effective than reading textbooks.
  • खुशबू यादों को तरोताजा कर सकती है: एक परिचित खुशबू किसी खास जगह, व्यक्ति या घटना से जुड़ी पुरानी यादों को वापस ला सकती है।
Scent can trigger memories: A familiar scent can bring back memories of a particular place, person, or event.
Scent can trigger memories: A familiar scent can bring back memories of a particular place, person, or event.
  • पहला प्रभाव महत्वपूर्ण होता है: किसी व्यक्ति से पहली मुलाकात में बनने वाली छवि दिमाग में लंबे समय तक रहती है और रिश्ते को प्रभावित करती है।
First impressions are important: the impression formed upon first meeting a person stays in the mind for a long time and affects the relationship.
First impressions are important: the impression formed upon first meeting a person stays in the mind for a long time and affects the relationship.
  • हम वही सुनते हैं जो हम सुनना चाहते हैं: पुष्टिकरण पूर्वाग्रह (confirmation bias) के कारण, हम अक्सर उन सूचनाओं पर अधिक ध्यान देते हैं जो हमारे पूर्वनिर्धारित विचारों का समर्थन करती हैं।
We hear what we want to hear: Because of confirmation bias, we often pay more attention to information that supports our preconceived ideas.
We hear what we want to hear: Because of confirmation bias, we often pay more attention to information that supports our preconceived ideas.
  • हम उन चीजों को अधिक पसंद करते हैं जिनके लिए हमने मेहनत की है: मनोवैज्ञानिक शोध से पता चलता है कि हम उन चीजों को अधिक महत्व देते हैं जिन्हें पाने के लिए हमने प्रयास किया है।
We like things more that we have worked hard for: Psychological research shows that we value things more that we have worked hard to achieve.
We like things more that we have worked hard for: Psychological research shows that we value things more that we have worked hard to achieve.
  • दूसरों की नकल: नकल (nakal) करना संबंध बनाने में मदद करता है: जब हम किसी व्यक्ति को पसंद करते हैं, तो हम अनजाने में उनकी हावभाव और बोलने के तरीके की नकल कर लेते हैं।
Imitation of others: Imitation helps in building rapport: When we like a person, we unconsciously copy their body language and way of speaking.
Imitation of others: Imitation helps in building rapport: When we like a person, we unconsciously copy their body language and way of speaking.
  • हम उन लोगों को अधिक आकर्षक मानते हैं जो हमारे समान दिखते हैं: समानता का आकर्षण (similarity attraction) एक मनोवैज्ञानिक सिद्धांत है जो बताता है कि हम उन लोगों के प्रति अधिक आकर्षित होते हैं जो हमसे मिलते-जुलते हैं।
We find people who look similar to us more attractive: Similarity attraction is a psychological theory that states that we are more attracted to people who are similar to us.
We find people who look similar to us more attractive: Similarity attraction is a psychological theory that states that we are more attracted to people who are similar to us.
  • लाल रंग हमें प्रभावित करता है: अध्ययनों से पता चलता है कि लाल रंग उत्तेजना और ध्यान बढ़ा सकता है। यही वजह है कि कई रेस्टोरेंट और ब्रांड अपने लोगो और विज्ञापन में लाल रंग का इस्तेमाल करते हैं।
The color red affects us: Studies show that the color red can increase arousal and attention. This is the reason why many restaurants and brands use red color in their logos and advertisements.
The color red affects us: Studies show that the color red can increase arousal and attention. This is the reason why many restaurants and brands use red color in their logos and advertisements.
  • हम चुनने में कठिनाई का अनुभव करते हैं: जितने अधिक विकल्प होते हैं, उतना ही हमें निर्णय लेने में परेशानी होती है।
We experience difficulty choosing: the more options there are, the more difficulty we have in deciding.
We experience difficulty choosing: the more options there are, the more difficulty we have in deciding.
  • अंधेरे में डर लगना स्वाभाविक है: अमाइग्डाला (amygdala) मस्तिष्क का वह भाग है जो भय का संचालन करता है और यह अंधेरे में अधिक सक्रिय हो जाता है।
It's natural to be afraid of darkness: The amygdala is the part of the brain that processes fear, and it becomes more active in the dark.
It’s natural to be afraid of darkness: The amygdala is the part of the brain that processes fear, and it becomes more active in the dark.
  • सपने देखना – लोग औसतन रात में 1 से 2 घंटे तक सपने देखते हैं और अपने जीवनकाल में लगभग 6 साल सपनों में बिताते हैं।
Dreaming – People dream for an average of 1 to 2 hours a night and spend about 6 years of their lifetime dreaming.
Dreaming – People dream for an average of 1 to 2 hours a night and spend about 6 years of their lifetime dreaming.
  • पहली छाप – किसी व्यक्ति के बारे में पहली छाप बनाने में केवल 7 से 15 सेकंड लगते हैं।
First Impression – It takes only 7 to 15 seconds to form a first impression about a person.
First Impression – It takes only 7 to 15 seconds to form a first impression about a person.
  • मिररिंग – लोग अक्सर अनजाने में अपने बातचीत के साथी के शारीरिक हावभाव की नकल करते हैं। इसे “मिररिंग” कहा जाता है और यह सामाजिक बंधन बनाने में मदद करता है।
Mirroring – People often unconsciously copy the body language of their conversation partner. This is called "mirroring" and helps form social bonds.
Mirroring – People often unconsciously copy the body language of their conversation partner. This is called “mirroring” and helps form social bonds.
  • संगीत और मनोदशा – पसंदीदा संगीत सुनने से मस्तिष्क में डोपामाइन का स्तर बढ़ता है, जो खुशी और उत्साह की भावना को बढ़ाता है।
Music and mood – Listening to favorite music increases dopamine levels in the brain, which increases feelings of happiness and euphoria.
Music and mood – Listening to favorite music increases dopamine levels in the brain, which increases feelings of happiness and euphoria.
  • प्रोक्रैस्टिनेशन – काम को टालना अक्सर उस काम से उत्पन्न होने वाली चिंता और तनाव के कारण होता है, न कि आलस के कारण।
Procrastination – Putting off work is often caused by the anxiety and stress generated by that work, not laziness.
Procrastination – Putting off work is often caused by the anxiety and stress generated by that work, not laziness.
  • सकारात्मक सोच – सकारात्मक सोच मस्तिष्क में नए न्यूरोनल कनेक्शन बनाती है, जिससे व्यक्ति की समस्या-समाधान क्षमता और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है।
Positive thinking – Positive thinking creates new neuronal connections in the brain, which improves a person's problem-solving abilities and mental health.
Positive thinking – Positive thinking creates new neuronal connections in the brain, which improves a person’s problem-solving abilities and mental health.
  • अजनबियों से बात करना – अध्ययन बताते हैं कि अजनबियों से छोटी-छोटी बातें करने से व्यक्ति की खुशी और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है।
Talking to strangers – Studies show that making small talk with strangers improves a person's happiness and mental health.
Talking to strangers – Studies show that making small talk with strangers improves a person’s happiness and mental health.
  • नींद और स्मृति – अच्छी नींद स्मृति और सीखने की क्षमता को बढ़ाती है। नींद के दौरान मस्तिष्क दिन भर की सूचनाओं को व्यवस्थित करता है और महत्वपूर्ण यादों को संग्रहीत करता है।
Sleep and memory – Good sleep enhances memory and learning ability. During sleep the brain organizes the day's information and stores important memories.
Sleep and memory – Good sleep enhances memory and learning ability. During sleep the brain organizes the day’s information and stores important memories.
  • आदतें बदलना – एक नई आदत को विकसित करने में औसतन 21 दिन लगते हैं, लेकिन इसे पूरी तरह से अपनाने में 66 दिन तक का समय लग सकता है।
Changing habits – It takes an average of 21 days to develop a new habit, but it can take up to 66 days to fully adopt it.
Changing habits – It takes an average of 21 days to develop a new habit, but it can take up to 66 days to fully adopt it.
  • सकारात्मक आत्म-चर्चा – खुद से सकारात्मक बातें करना तनाव कम करने और आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद करता है।
Positive self-talk – Talking to yourself positively helps reduce stress and increase self-confidence.
Positive self-talk – Talking to yourself positively helps reduce stress and increase self-confidence.
  • मस्तिष्क की ऊर्जा खपत – मानव मस्तिष्क शरीर के कुल वजन का केवल 2% होता है, लेकिन यह शरीर की कुल ऊर्जा का लगभग 20% उपयोग करता है।
Energy consumption of the brain – The human brain accounts for only 2% of the total body weight, but it uses about 20% of the total body energy.
Energy consumption of the brain – The human brain accounts for only 2% of the total body weight, but it uses about 20% of the total body energy.
  • रंग और मूड – रंग हमारे मूड और भावनाओं को प्रभावित कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, नीला रंग शांति और आराम का अनुभव कराता है, जबकि लाल रंग उत्तेजना और ऊर्जा का प्रतीक है।
Color and mood – Color can affect our mood and emotions. For example, the color blue evokes peace and relaxation, while red symbolizes excitement and energy.
Color and mood – Color can affect our mood and emotions. For example, the color blue evokes peace and relaxation, while red symbolizes excitement and energy.
  • चेहरा पढ़ना – चेहरे के हावभाव को पढ़कर किसी व्यक्ति के भावनात्मक स्थिति का 55% पता लगाया जा सकता है।
Face Reading – 55% of a person's emotional state can be determined by reading facial expressions.
Face Reading – 55% of a person’s emotional state can be determined by reading facial expressions.
  • विपरीत आकर्षण – शोध से पता चलता है कि विपरीत व्यक्तित्व वाले लोग एक-दूसरे की ओर अधिक आकर्षित होते हैं।
Opposites attract – Research shows that people with opposite personalities are more attracted to each other.
Opposites attract – Research shows that people with opposite personalities are more attracted to each other.
  • खुशबू और यादें – खुशबू मस्तिष्क के उस हिस्से को सक्रिय करती है जो यादों और भावनाओं को संग्रहीत करता है, इसलिए कुछ खुशबुएं हमें पुरानी यादों की याद दिलाती हैं।
Scent and memories – Scent activates the part of the brain that stores memories and emotions, so certain scents remind us of old memories.
Scent and memories – Scent activates the part of the brain that stores memories and emotions, so certain scents remind us of old memories.
  • प्राकृतिक वातावरण – प्राकृतिक वातावरण में समय बिताने से तनाव कम होता है और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है।
Natural environment – ​​Spending time in natural environment reduces stress and improves mental health.
Natural environment – ​​Spending time in natural environment reduces stress and improves mental health.
  • मुस्कान का प्रभाव – मुस्कान न केवल आपके मूड को बेहतर बनाती है, बल्कि यह दूसरों पर भी सकारात्मक प्रभाव डालती है।
Smile Effect – Smiling not only improves your mood, but it also has a positive impact on others.
Smile Effect – Smiling not only improves your mood, but it also has a positive impact on others.
  • समय की धारणा – हमारी समय की धारणा परिस्थिति और गतिविधियों के अनुसार बदलती रहती है। जब हम कुछ रोमांचक कर रहे होते हैं, तो समय तेजी से बीतता है।
Perception of time – Our perception of time varies according to circumstances and activities. When we're doing something exciting, time passes faster.
Perception of time – Our perception of time varies according to circumstances and activities. When we’re doing something exciting, time passes faster.
  • सहानुभूति – महिलाएं पुरुषों की तुलना में भावनात्मक रूप से अधिक सहानुभूतिपूर्ण होती हैं और अन्य लोगों की भावनाओं को बेहतर समझ पाती हैं।
Empathy – Women are more emotionally empathetic than men and are able to understand other people's feelings better.
Empathy – Women are more emotionally empathetic than men and are able to understand other people’s feelings better.
  • संगठन और उत्पादकता – एक साफ और संगठित कार्यक्षेत्र उत्पादकता बढ़ाता है और मानसिक स्पष्टता को बढ़ावा देता है।
Organization and Productivity – A clean and organized workspace increases productivity and promotes mental clarity.
Organization and Productivity – A clean and organized workspace increases productivity and promotes mental clarity.
Join WhatsApp Group
Jago Pahad Desk

"जागो पहाड" उत्तराखंड वासियों को समाचार के माध्यम से जागरूक करने के लिए चलाई गई एक पहल है।

http://www.jagopahad.com