Logo Jago pahad news

उत्तराखंड के 40 प्रसिद्ध हिल स्टेशन (40 famous hill stations of Uttarakhand)

उत्तराखंड के 40 प्रसिद्ध हिल स्टेशन (40 famous hill stations of Uttarakhand)

उत्तराखंड के इन प्रसिद्ध और अनदेखे हिल स्टेशनों का अन्वेषण करें, जो आपकी छुट्टियों के लिए आदर्श गंतव्य हैं:

  • नैनीताल – दर्शनीय सुंदरता का साक्षात्कार
  • मसूरी – शानदार हिम श्रृंखलाएं
  • देहरादून – वन्यजीव आश्रयों की भरमार
  • औली – स्कीइंग का मज़ा
  • चौकोरी – चाय के बागानों का अन्वेषण करें
  • धनौल्टी – मंदिरों का अन्वेषण करें
  • जागेश्वर – भारतीय मूर्तियों का दौरा
  • कौसानी – आकर्षक दृश्य
  • खिर्सू – एक आकर्षक स्थान
  • पौड़ी – शानदार दृश्य
  • रानीखेत – शांतिपूर्ण भाग
  • लैंसडाउन – रोमांचक स्थान
  • पंगोट – पक्षियों को देखें
  • अल्मोड़ा – शांतिपूर्ण स्वर्ग
  • भवाली – छिपा हुआ रत्न
  • चोपटा – ‘भारत का स्विट्जरलैंड’
  • हर्षिल – मनोरम दृश्य
  • भीमताल – साफ़ झीलें
  • बिनसर‌ – हरी-भरी हरियाली
  • चकराता – रोमांचक गतिविधियाँ
  • चंबा – दिलकश दृश्य
  • देवप्रयाग – पूर्ण शांति
  • कर्णप्रयाग – शानदार पृष्ठभूमि
  • गुप्तकाशी – मंदिरों का दौरा
  • अब्बॉट माउंट – सुंदर चर्च
  • अस्कोट – घाटियों का दौरा
  • गंगोलीहाट – गुफाओं का अन्वेषण
  • ग्वालदम – ट्रेकिंग करें
  • रामगढ़ – प्रकृति प्रेमियों के लिए परिपूर्ण
  • काणाताल – स्वर्गीय गांव
  • उत्तरकाशी – साहसिक गतिविधियों के लिए
  • यमुनोत्री – झरने
  • टिहरी – शांतिपूर्ण स्वर्ग
  • मुन्सयारी – अद्भुत वातावरण
  • बागेश्वर – पहाड़ों से घिरा
  • मुक्तेश्वर – घने जंगल
  • चम्पावत – एक पवित्र स्थान
  • गंगोत्री – ट्रेकर्स के लिए आदर्श
  • द्वाराहाट – अद्भुत वास्तुकला
  • ग्वालदम – पाइन के जंगलों का भ्रमण
  • जोशीमठ – तीर्थयात्रियों के लिए स्थान

1. नैनीताल Nainital – दर्शनीय सुंदरता का साक्षात्कार

नैनीताल, समुद्र तल से 1,938 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। यह नयना देवी मंदिर और नैनीताल झील के लिए जाना जाता है।

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से: पंतनगर हवाई अड्डा (65 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (34 किमी दूर)
  • घूमने के स्थान: राजभवन, नैनी झील, टिफिन टॉप, नैनीताल चिड़ियाघर, नयना देवी मंदिर, हनुमान गढ़ी, रोपवे की सवारी
  • आसपास के स्थान: भीमताल, नौकुचियाताल, सातताल, रानीखेत
  • रहने के स्थान: द कुमाऊनी कारवां, कॉनिफर्स विला, जे रिसॉर्ट डोलमार नैनीताल, फर्न विला, प्रगति रिसॉर्ट
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: पूरे साल

2. मसूरी Mussoorie – शानदार हिम श्रृंखलाएं

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से: देहरादून में जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (54 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: देहरादून रेलवे स्टेशन (33 किमी दूर)
  • घूमने के स्थान: केम्प्टी फॉल्स, लाल टिब्बा, गन हिल्स, सर जॉर्ज एवरेस्ट हाउस, क्लाउड्स एंड, लेक मिस्ट, मसूरी झील
  • आसपास के स्थान: राजाजी नेशनल पार्क, बिनोग वन्यजीव अभयारण्य, ज्वाला जी मंदिर
  • रहने के स्थान: होटल नंद रेजीडेंसी, द डोलिना, मसूरी हनीमून इन, फॉर्च्यून रिसॉर्ट ग्रेस, रॉक विला
  • क्या करें: ट्रेकिंग, पैराग्लाइडिंग, राफ्टिंग
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: सितंबर से जून

3. देहरादून Dehradun- वन्यजीव अभ्यारण्यों का घर

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से:जॉली ग्रांट हवाई अड्डा
  • रेल मार्ग से:देहरादून रेलवे स्टेशन
  • घूमने के स्थान: माइंडरोलिंग मोनेस्ट्री, रॉबर केव, तपकेश्वर मंदिर, मालसी डियर पार्क
  • आसपास के स्थान: चकराता, ऋषिकेश, हरिद्वार, कालसी
  • रहने के स्थान:रामदा देहरादून, होटल सुमंगलम, होटल रिलैक्स, तपस्या होम स्टे
  • क्या करें: पैराग्लाइडिंग, ट्रेकिंग
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: पूरे साल

4. औली Auli – स्कीइंग का मज़ा लें

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (279 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: ऋषिकेश रेलवे स्टेशन (250 किमी दूर)
  • घूमने के स्थान:औली आर्टिफिशियल झील, स्की रिसॉर्ट, औली रोपवे, गूरसो बुग्याल
  • आसपास के स्थान: बद्रीनाथ, जोशीमठ, चत्रा कुंड झील
  • रहने के स्थान: द्वारिका, बारा बीस विला, एप्पल फार्म स्टे
  • क्या करें: कैम्पिंग, स्कीइंग, केबल कार राइड
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: पूरे साल

5. चौकोरी Chaukori- चाय के बागानों की सैर

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से: पंतनगर हवाई अड्डा (205 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (180 किमी दूर)
  • घूमने के स्थान: अर्जुनेश्वर शिव मंदिर, मोस्तामानु मंदिर, हरिनाग मंदिर
  • आसपास के स्थान: पाताल भुवनेश्वरी गुफा, कपिलेश्वर महादेव मंदिर
  • रहने के स्थान: द मिस्टि माउंटेंस, होटल बॉर्डर वे
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: अक्टूबर से मार्च

6. धनौल्टी Dhanaulti- मंदिरों की खोज

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (85 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: देहरादून रेलवे स्टेशन (60 किमी दूर)
  • घूमने के स्थान: सुरकंडा देवी मंदिर, दशावतार मंदिर, देवगढ़ किला, एम्बर और धारा इको-पार्क
  • आसपास के स्थान: टिहरी, कनाताल, मसूरी
  • रहने के स्थान: होटल पाइन धनोल्टी, रांसुली रिसॉर्ट, रॉक गार्डन कैंप
  • क्या करें: ट्रेकिंग, वैली क्रॉसिंग
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: सितंबर से जून

7. जागेश्वर Jageshwar – भारतीय मूर्तियों की सैर

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से: पंतनगर हवाई अड्डा (150 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (125 किमी दूर)
  • घूमने के स्थान: मृत्युंजय मंदिर, दंडेश्वर मंदिर, जागेश्वर पुरातात्विक संग्रहालय, जागेश्वर महादेव मंदिर
  • आसपास के स्थान: अल्मोड़ा, चितई मंदिर, बिनसर, रानीखेत, कौसानी
  • रहने के स्थान: जागेश्वर इन, जय मां तुलसी गेस्ट हाउस, थिकलना हिमालयन रिट्रीट
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: अप्रैल से जून, सितंबर से नवंबर

8. कौसानी Kausani- मनमोहक दृश्य

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से: पंतनगर हवाई अड्डा (162 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (132 किमी दूर)
  • घूमने के स्थान: अनाशक्ति आश्रम, लक्ष्मी आश्रम, कौसानी चाय बागान, रुद्रधारी गुफाएं और झरने
  • आसपास के स्थान: ग्वालदम, पिन्नाथ, बैजनाथ मंदिर
  • रहने के स्थान: अलीया हिमालयन गांव, होटल दीपराज, एक्सोमोटेल सुनीता हिमालयन पैराडाइज
  • क्या करें: गार्डन रेस्टोरेंट में भोजन करें, मंदिरों की यात्रा करें
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: अप्रैल से जून, सितंबर से दिसंबर

9. खिर्सु Khirsu- एक आकर्षक जगह

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (145 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: ऋषिकेश रेलवे स्टेशन (132 किमी दूर)
  • घूमने के स्थान: घंडियाल देवता मंदिर, पौड़ी, देवलगढ़
  • आसपास के स्थान: श्रीनगर, ज्वालपा देवी मंदिर, धारी देवी मंदिर
  • रहने के स्थान: ऋषिकेश स्टे1, होटल हिलसन, आईवीटॉप रिसॉर्ट
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: मार्च से जून

10. पौड़ी Pauri- आश्चर्यजनक दृश्य

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (133 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: कोटद्वार रेलवे स्टेशन (101 किमी दूर)
  • घूमने के स्थान: रांसी स्टेडियम, कंडोलिया मंदिर, चौखंबा व्यूपॉइंट
  • आसपास के स्थान: खीर्सू, देवलगढ़, ज्वालपा देवी मंदिर
  • रहने के स्थान: बीएसआर फार्म्स, होटल हिलसन, आईवीटॉप रिसॉर्ट
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: नवंबर से अप्रैल

11. रानीखेत Ranikhet- एक सुकून भरी सैर

कैसे पहुँचें:

  • रेल मार्ग से: काठगोदाम रेलवे स्टेशन
  • घूमने के स्थान: गोल्फ ग्राउंड, चौबटिया गार्डन, अषियाना पार्क
  • रहने के स्थान: हिम दर्शन वाटिका, एलैशन गेस्ट हाउस, मुसाफिर कैफे
  • क्या करें: मंदिरों की यात्रा करें
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: पूरे साल

12. लैंसडाउन Lansdowne- एक रोमांचक स्थान

कैसे पहुँचें:

  • रेल मार्ग से: कोटद्वार रेलवे स्टेशन
  • घूमने के स्थान: दरवान सिंह संग्रहालय, भुल्लाताल झील
  • रहने के स्थान: वेकेशन रेंटल लैंसडाउन, द अल्पाइन रिसॉर्ट, हिल्स ऑफ एडवेंचर
  • क्या करें: कैम्पिंग, नेचर वॉक, टिप एन टॉप हाइकिंग
  • आगमन का सबसे अच्छा समय: पूरे साल

13. पंगोट Pangoot- पक्षियों को देखना

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: पंतनगर हवाई अड्डा यहाँ से 58 किमी दूर है
  • रेल मार्ग से: काठगोदाम सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन है, जो 20 किमी दूर है
  • घूमने की जगहें: इको केव गार्डन, नैनी झील, स्नो व्यू प्वाइंट, खुरपा ताल, कैंची धाम और किलबरी रोड
  • रहने के स्थान: द कुमाओनी कारवां, द नेस्ट कॉटेज, सिल्वर क्लाउड रिसॉर्ट, होटल मोनाल इन, श्रीखेवन्स इन
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: साल भर

14. अल्मोड़ा Almora- शांत स्वर्ग

कैसे पहुंचे:

  • रेल मार्ग से: काठगोदाम सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन है, जो लगभग 91 किमी दूर है
  • हवाई मार्ग से: पंतनगर सबसे नजदीकी हवाई अड्डा है, जो लगभग 125 किमी दूर है
  • घूमने की जगहें: नंदा देवी मंदिर, चितई गोलू देवता मंदिर, कसार देवी मंदिर
  • रहने के स्थान: स्टार्स एंड पाइंस, होटल कौसानी रिट्रीट, कसार हिमालय हॉलिडे होम, शुकुन होमस्टे, उत्तराखंड होमस्टे
  • करने योग्य चीजें: ट्रेकिंग, शॉपिंग
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: साल भर

15. भवाली Bhowali– एक छुपा रत्न

कैसे पहुंचे:

  • रेल मार्ग से: काठगोदाम सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन है, जो 34 किमी दूर है।
  • घूमने की जगहें: नैनी पीक, टिफिन टॉप, और नैनीताल झील
  • रहने के स्थान: मिस्टलेटो हाउस, ले रेव वैली, होटल विस्टा, एक्वा डे विदा रिसॉर्ट
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: फरवरी से अप्रैल, सितंबर से अक्टूबर

16. चोपता Chopta- ‘भारत का स्विट्जरलैंड’

कैसे पहुंचे:

  • रेल मार्ग से: निकटतम स्टेशन ऋषिकेश में है, जो 209 किमी दूर है
  • हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा, देहरादून में स्थित है, जो 226 किमी दूर है
  • घूमने की जगहें: कार्तिक स्वामी मंदिर, कोटेश्वर महादेव, और तुंगनाथ मंदिर
  • रहने के स्थान: विलोटेल चोपता CHC, आकाशदीप रिसॉर्ट चोपता, होटल गोविंद, द्वाराहाट हाउस
  • करने योग्य चीजें: ट्रेकिंग, कैंपिंग
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: मार्च से जून

17. हर्सिल Harsil- मनोरम दृश्य

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: निकटतम हवाई अड्डा जॉली ग्रांट हवाई अड्डा, देहरादून में है
  • रेल मार्ग से: निकटतम रेलवे स्टेशन ऋषिकेश है
  • घूमने की जगहें: मुखवास गांव, धराली, गंगनानी
  • रहने के स्थान: प्रकृति रिट्रीट, होम स्टे हिमालय विस्टा, कृष्णा विला रिसॉर्ट
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: अप्रैल से अक्टूबर

18. भीमताल Bhimtal- प्राचीन झीलें

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: निकटतम हवाई अड्डा देहरादून है
  • रेल मार्ग से: देहरादून स्टेशन निकटतम रेलवे स्टेशन है
  • घूमने की जगहें: भीमताल झील, भीमताल द्वीप पर एक्वेरियम, हनुमान गढ़ी, विक्टोरिया डैम
  • रहने के स्थान: निलेश इन, द प्रिंस, द वेरंडाह, द फर्न हिलसाइड रिसॉर्ट, TAG रिसॉर्ट्स लावण्या
  • करने योग्य चीजें: बोटिंग, मछली पकड़ना, कैंपिंग और तारे देखना
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: मार्च से जून, सितंबर से दिसंबर

19. बिनसर Binsar- हरी-भरी हरियाली

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: निकटतम हवाई अड्डा देहरादून है
  • रेल मार्ग से: देहरादून स्टेशन निकटतम रेलवे स्टेशन है
  • घूमने की जगहें: बिनसर वन्यजीव अभयारण्य, बिनेश्वर मंदिर, जीरो प्वाइंट, गोलू देवता मंदिर
  • रहने के स्थान: बिनसर एडवेंचर कैंप, सिंबा कैफे और लॉज, बिनसर फॉरेस्ट रिट्रीट, द कुमाऊं
  • करने योग्य चीजें: ट्रेकिंग, पैराग्लाइडिंग, पक्षी देखना
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: साल भर

20. चकराता Chakrata- रोमांचक गतिविधियों को आजमाएं

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: निकटतम हवाई अड्डा देहरादून है
  • रेल मार्ग से: देहरादून स्टेशन निकटतम रेलवे स्टेशन है
  • घूमने की जगहें: टाइगर फॉल्स, देव बान, बुधेर गुफाएं, चिल्मिरी नेक, राम ताल हॉर्टिकल्चर गार्डन
  • रहने के स्थान: होटल हिमालयन फॉक्सहोल, स्टनिंग हिल्स, असमारह, वॉटर वैली रिसॉर्ट ग्वासापुल, वर्टिकल वैली रिसॉर्ट
  • करने योग्य चीजें: कैंपिंग और रिवर राफ्टिंग
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: साल भर

21. चंबा Chamba- मनमोहक दृश्य

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: निकटतम हवाई अड्डा देहरादून में है
  • रेल मार्ग से: निकटतम रेलवे स्टेशन ऋषिकेश है
  • घूमने की जगहें: सेब के बाग, भागीरथी नदी, टिहरी डैम
  • रहने के स्थान: हिमालयन कैनवास, कृष्ण होमस्टे, रफी का हाउस, शान-ए-चंबा
  • करने योग्य चीजें: ट्रेकिंग, नाव की सवारी
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: अक्टूबर से जून

22. देवप्रयाग Devprayag- संपूर्ण शांति

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा, देहरादून (88 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: देहरादून रेलवे स्टेशन (113 किमी दूर)
  • हिल स्टेशन के आकर्षण: रघुनाथजी का मंदिर, माता भुवनेश्वरी मंदिर, धनेश्वर महादेव मंदिर, डांडा नागराजा (सांपों के देवता) का मंदिर और चंद्रबदनी मंदिर।
  • रहने के स्थान: बानयन बाय द गंगा, रिवरसाइड रिसॉर्ट्स, मंडला, मोटल देव
  • करने योग्य चीजें: दर्शनीय स्थल, रिवर राफ्टिंग, क्लिफ जंपिंग
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: साल भर

23. कर्णप्रयाग Karnaprayag- शानदार दृश्य

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा, देहरादून (187 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: देहरादून रेलवे स्टेशन (212 किमी दूर)
  • हिल स्टेशन के आकर्षण: आदि बद्री, उमा देवी मंदिर, नौटी गांव, और चंडिका देवी सिमली
  • रहने के स्थान: लग्ज़री लोफ्ट हाउस, साकेत होटल, दीवा रिसॉर्ट, नंदू पीस लाइफ होमस्टे
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: अक्टूबर से जून

24. गुप्तकाशी Guptkashi- मंदिरों का भ्रमण

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा, देहरादून (198 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: देहरादून रेलवे स्टेशन (223 किमी दूर)
  • हिल स्टेशन के आकर्षण: विश्वनाथ मंदिर, मणिकर्णिक कुंड, और मंदाकिनी नदी
  • रहने के स्थान: चोपता मीडोज कैंप, महाराष्ट्र मंडल, केदार कैंप रिसॉर्ट्स, कृष्णा लॉज
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: मार्च से जून, सितंबर से नवंबर

25. एबॉट माउंट Abbott Mount- सुंदर चर्च

कैसे पहुंचे:

  • हवाई मार्ग से: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा, देहरादून (221 किमी दूर)
  • रेल मार्ग से: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (163 किमी दूर) और टनकपुर रेलवे स्टेशन (80 किमी दूर)
  • घूमने की जगहें: मुखरी कोठरी (प्रेतवाधित मानी जाती है), एबॉट माउंट चर्च, लोहाघाट, और अद्वैत आश्रम (मायावती आश्रम के नाम से भी जाना जाता है)
  • क्या पास में है: बनासुर का किला और पंचेश्वर महादेव मंदिर
  • घूमने का सबसे अच्छा समय: साल भर

26. अस्कोट Askote- घाटियों का भ्रमण

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: नैनी सैनी हवाई अड्डा, पिथौरागढ़ (60 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: टनकपुर रेलवे स्टेशन (204 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: अस्कोट कस्तूरी मृग अभयारण्य, पंचुली स्की रेंज, और चिप्लाकोट स्की रेंज
    पास में: पिथौरागढ़, धारचुला, मुनस्यारी, माउंट एबट, जमतड़ी, और घांगदुरा
    सबसे अच्छा समय: पूरे साल

27. गंगोलीहाट Gangolihat- गुफाओं की खोज

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: नैनी सैनी हवाई अड्डा (5 किमी दूर) और जॉली ग्रांट हवाई अड्डा, देहरादून (370 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (65 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: हाट कालिका मंदिर, चामुंडा मंदिर, वैष्णव मंदिर, अंबिका दीवाल मंदिर, शैलेश्वर गुफा, पाताल भुवनेश्वर, मुक्तेश्वर, पतालेश्वर गुफा, और हाट कालिका या देवी काली के शक्तिपीठ
    रहने के स्थान: पाताल भुवनेश्वर होमस्टे, ओक’स नेचर होमस्टे, द मिस्ट्री माउंटेंस, होटल हिमालय दर्शन बेरीनाग
    सबसे अच्छा समय: पूरे साल

28. ग्वालदम Gwaldam- ट्रेकिंग

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: पंतनगर हवाई अड्डा (205 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (170 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: बधाणगढ़ी मंदिर, तलवारी, अंगोरा फार्म, बौद्ध खंबा मंदिर, मछी ताल, और ग्वालनाग
    पास में: रूपकुंड झील
    रहने के स्थान: सफ़्रनस्टेज़ त्रिदिवा, पराशर रिज़ॉर्ट, होटल हिल पैलेस, होटल विष्णुवाथ
    सबसे अच्छा समय: पूरे साल

29. रामगढ़ Ramgarh- प्रकृति प्रेमियों के लिए आदर्श

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: पंतनगर हवाई अड्डा (76 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (45 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: रामगढ़ के बाग और नाथुआखान गाँव
    पास में: मुक्तेश्वर, नैनीताल, भीमताल, और नौकुचियाताल
    रहने के स्थान: सिकलूड रामगढ़, डिवाइन लिविंग होम स्टे, लेविटेट एट रामगढ़, सोलिट्यूड, नीमराना के – रामगढ़ बंगले
    सबसे अच्छा समय: अक्टूबर से मई

30. कानाताल Kanatal- स्वर्गीय गाँव

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (90 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: देहरादून रेलवे स्टेशन (42 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: सुरकंडा देवी मंदिर, टिहरी बांध, जय सेम नागराजा मंदिर, डोबरा चांटी पुल
    पास में: न्यू टिहरी, चंबा, धनौल्टी, मसूरी
    रहने के स्थान: हिमालयन रूट्स, द हर्मिटेज कानाताल, द गोट विलेज
    सबसे अच्छा समय: अप्रैल से सितंबर

31. उत्तरकाशी Uttarkashi- रोमांच प्रेमियों के लिए

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (168 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: ऋषिकेश रेलवे स्टेशन (143 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: काशी विश्वनाथ मंदिर, कुटेटी देवी मंदिर, सोमेश्वर महादेव मंदिर, भागीरथी नदी
    पास में: हर्षिल, गंगोत्री, दयारा बुग्याल
    रहने के स्थान: होटल केएनबी हेरिटेज, जीएमवीएन टूरिस्ट रेस्ट हाउस, शिवलिंग रिज़ॉर्ट
    सबसे अच्छा समय: मार्च से नवंबर

32. यमुनोत्री Yamunotri- झरने

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (210 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: देहरादून (175 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: बाली पास, मंडुका बुग्याल, यमुनोत्री मंदिर
    पास में: रैथल, उत्तरकाशी, हनुमानचट्टी, जानकीचट्टी, बारकोट
    रहने के स्थान: यमुनोत्री कॉटेज, होटल यमुनाकृति कॉटेज
    सबसे अच्छा समय: मई से जून, सितंबर से नवंबर

33. टिहरी Tehri- शांति का स्वर्ग

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (130 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: देहरादून (115 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: टिहरी बांध, डोबरा चांटी पुल, गौतम ऋषि मंदिर
    पास में: धालियुन गाला, धनौल्टी, देवप्रयाग, सेम मुखेम मंदिर और नरेंद्रनगर
    रहने के स्थान: टिहरी हिमालयन रेजीडेंसी, टिहरी क्लब एंड रिज़ॉर्ट
    सबसे अच्छा समय: मार्च से मई

34. मुनस्यारी Munsyari- अद्भुत वातावरण

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: पंतनगर हवाई अड्डा (250 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (218 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: जनजातीय विरासत संग्रहालय, खलिया टॉप, नंदा देवी मंदिर, थामरी कुंड
    पास में: बिर्थी जलप्रपात, मडकोट गाँव, डार्कोट गाँव, महेश्वरी कुंड
    रहने के स्थान: केएमवीएन टूरिस्ट रेस्ट हाउस मुनस्यारी, वेफेयरर मुनस्यारी
    सबसे अच्छा समय: मार्च से जून

35. बागेश्वर Bageshwar- पहाड़ों से घिरा

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: पंतनगर हवाई अड्डा (180 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (149 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: बैजनाथ मंदिर, बाघनाथ मंदिर, चंडिका मंदिर, गौरी उडियार गुफा, बिगुल गाँव, कांडा
    पास में: चौकोरी, बेरीनाग, बिनसर, ग्वालदम
    रहने के स्थान: होटल विवेक, द हेरिटेज रिज़ॉर्ट, होटल कौसानी रिट्रीट
    सबसे अच्छा समय: अक्टूबर से मई

36. मुक्तेश्वर Mukteshwar- घने जंगल

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: पंतनगर हवाई अड्डा (100 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (73 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: चौली की जाली, मुक्तेश्वर धाम मंदिर, भालू गाड़ झरने, मुक्तेश्वर कुमाऊँ हिल्स
    पास में: हरिद्वार, धारचुला, नैनीताल, रुद्रप्रयाग, चौकोरी
    रहने के स्थान: ओजस्वी हिमालयन रिज़ॉर्ट, चिरपिंग ऑर्चर्ड, द स्विस विलेज
    सबसे अच्छा समय: पूरे साल

37. चंपावत Champawat- एक पवित्र स्थान

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: पंतनगर हवाई अड्डा (160 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: टनकपुर रेलवे स्टेशन (75 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: बलेश्वर मंदिर, नागनाथ मंदिर, अद्वैत आश्रम, किरातेश्वर महादेव मंदिर
    पास में: एबट माउंट, लोहाघाट, पाटी
    रहने के स्थान: केएमवीएन टूरिस्ट रेस्ट हाउस, होटल माउंट व्यू, होटल सी हॉक
    सबसे अच्छा समय: अप्रैल से जून

38. गंगोत्री Gangotri- ट्रेकर्स के लिए आदर्श

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (250 किमी दूर)
  • रेल मार्ग: ऋषिकेश रेलवे स्टेशन (243 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: गंगोत्री मंदिर, सूर्य कुंड, भागीरथ शिला
    पास में: भोजबासा, गंगनानी, हर्षिल, धराली
    रहने के स्थान: जीएमवीएन टूरिस्ट लॉज, हिमालय सदन, होटल मनीषा
    सबसे अच्छा समय: अप्रैल से जून, सितंबर से अक्टूबर

39. द्वाराहाट Dwarahat- अद्भुत वास्तुकला

कैसे पहुँचें:

  • हवाई मार्ग: पंतनगर हवाई अड्डा (112 किमी)
  • रेल मार्ग: काठगोदाम रेलवे स्टेशन (88 किमी दूर)
    घूमने की जगहें: दुनागिरि मंदिर, लखनपुर मंदिर, पांडुखोली, महावतार बाबाजी की गुफा
    पास में: बुंगा, बागेश्वर, रानीखेत, मझखाली, सोमेश्वर, कौसानी
    रहने के स्थान: होटल मयंक रिज़ॉर्ट, दुनागिरि रिट्रीट
    सबसे अच्छा समय: मार्च से जून

40. ग्वालदम Gwaldam – चीड़ के जंगलों का भ्रमण

  • कैसे पहुँचें: पंतनगर हवाई अड्डा निकटतम हवाई अड्डा है / काठगोदाम निकटतम रेलवे स्टेशन है
  • पास में: अंगोरा फार्म, बौद्ध खंबा मंदिर, बंधंगढ़ी मंदिर
  • रहने के स्थान: सफ़्रनस्टेज़ त्रिदिवा, नेचर’स ट्रीट रिज़ॉर्ट, शेवरॉन इको लॉज
  • सबसे अच्छा समय: मार्च-जून, अक्टूबर-जनवरी

41. जोशीमठ Joshimath- तीर्थयात्रियों के लिए स्थान

जिसे ज्योतिरमठ भी कहा जाता है, यह उत्तराखंड के सबसे ऊँचे हिल स्टेशनों में से एक है, जो गढ़वाल क्षेत्र के चमोली जिले में 6150 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यह शहर अपनी धार्मिक महत्वता के लिए विशेष रूप से जाना जाता है और कई हिंदू तीर्थयात्रियों द्वारा दौरा किया जाता है। यह हिल टाउन अलकनंदा और धौलीगंगा नदियों के संगम पर स्थित है, जिसे विष्णुप्रयाग के नाम से जाना जाता है। बर्फ से ढके हिमालय से घिरा यह स्थान ‘ट्रेकिंग के द्वार’ के रूप में भी जाना जाता है।

  • कैसे पहुँचें: निकटतम रेलवे स्टेशन जोशीमठ है
  • घूमने की जगहें: विष्णुप्रयाग, गोरसों बुग्याल, वृद्ध बद्री मंदिर
  • पास में: भविष्य केदार मंदिर, नंदा देवी राष्ट्रीय उद्यान
  • रहने के स्थान: द तत्त्वा रिज़ॉर्ट, ब्लू बेल्स कॉटेज, हिमालयन अबोड लग्ज़री होम स्टे
  • सबसे अच्छा समय: अप्रैल-नवंबर
Join WhatsApp Group
Jago Pahad Desk

"जागो पहाड" उत्तराखंड वासियों को समाचार के माध्यम से जागरूक करने के लिए चलाई गई एक पहल है।

http://www.jagopahad.com