Big breaking: गढ़ी और क्लेमेंटटाउन कैंट सिविल एरिया निगम में होगा शामिल, रक्षा मंत्रालय ने जारी की अधिसूचना

गढ़ी और क्लेमेंटटाउन कैंट सिविल एरिया निगम में होगा शामिल, रक्षा मंत्रालय ने जारी की अधिसूचना

देशभर के कैंट बोर्डों के सिविल एरिया को नजदीकी स्थानीय निकाय में शामिल करने की तैयारी सालभर से जारी है। इसके कारण ही कैंट बोर्डों में चुनाव प्रक्रिया को स्थगित कर बोर्ड को लगातार एक्सटेंशन दिया गया।रक्षा मंत्रालय ने गढ़ी कैंट और क्लेमेंटटाउन कैंट के सिविल एरिया नगर निगम में शामिल करने की अधिसूचना जारी कर दी है। राज्य सरकार व छावनी परिषद से परामर्श के बाद यह निर्णय लिया गया है।

हालांकि इस पर आपत्तियां दर्ज कराने के लिए आमजन को 56 दिन का समय दिया गया है।देशभर के कैंट बोर्डों के सिविल एरिया को नजदीकी स्थानीय निकाय में शामिल करने की तैयारी सालभर से जारी है। इसके कारण ही कैंट बोर्डों में चुनाव प्रक्रिया को स्थगित कर बोर्ड को लगातार एक्सटेंशन दिया गया। इसके लिए रक्षा मंत्रालय ने राज्य सरकार व कैंट बोर्डों से परामर्श मांगा था।अब प्रक्रिया पूरी होने के बाद रक्षा मंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर दी है। इसके तहत छावनी परिषद देहरादून यानी गढ़ी कैंट और छावनी परिषद क्लेमेंटटाउन के सिविल एरिया/वार्ड नगर निगम देहरादून में शामिल हो जाएंगे। इसके बाद इन दोनों कैंट बोर्डों की सीमा में सिर्फ मिलिट्री कैंप ही रह जाएगा।

Jago Pahad Desk

"जागो पहाड" उत्तराखंड वासियों को समाचार के माध्यम से जागरूक करने के लिए चलाई गई एक पहल है।

http://www.jagopahad.com