ISBT Dehradun: भिक्षावृत्ति करने वाले बच्चों का पुनर्वास हेतु चलाया रेस्क्यू अभियान

ISBT Dehradun : ज़िलाधिकारी सोनिका के निर्देशों के क्रम में जिला प्रोबेशन अधिकारी व अन्य विभागों के सहयोग से भिक्षावृत्ति/बाल श्रम/कूड़ा बीनने में लिप्त बच्चो के पुनर्वास हेतु रेस्क्यू अभियान ISBT Dehradun व शिमला बायपास चौक ट्रांसपोर्ट नगर देहरादून में चलाया गया।

ISBT Dehradun

रेस्क्यू अभियान में कुल 30 बच्चो/महिलाओं को रेस्क्यू किया गया जिसमें 5 महिलाए,15 बालक व 10 बालिकाएं है। जिनका संबंधित थाने में जीडी दर्ज व मेडिकल कराया गया। उसके उपरांत बाल कल्याण समिति के समुख प्रस्तुत किया गया। बाल कल्याण समिति के आदेश से रेस्क्यू किए गए बच्चो को महिला कल्याण विभाग द्वारा संचालित खुला आश्रय गृह सरफीना ट्रस्ट व समर्पण सोसाइटी में प्रवेश दिया गया।

ISBT Dehradun

रेस्क्यू अभियान में जिला प्रोबेशन अधिकारी मीना बिष्ट ,रश्मि बिष्ट , संपूर्णा भट्ट,आशा कंडारी,अखिलेश, प्रवीण चौहान अनिता, एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट से रचना,देवेंद्र, श्रम विभाग से अश्वनी, , मैक संस्था से जहांगीर आलम, बचपन बचाओ आंदोलन से सुरेश उनियाल,समर्पण सोसाइटी से शिवांगी,सरफिना ट्रस्ट से किशोर,हीना आशरा ट्रस्ट से मोबीन, चाइल्ड लाइन से जसवीर प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Jago Pahad Desk

"जागो पहाड" उत्तराखंड वासियों को समाचार के माध्यम से जागरूक करने के लिए चलाई गई एक पहल है।

http://www.jagopahad.com