अल्मोड़ा: पंचतत्व में विलीन हुए शहीद कमल भाकुनी, हजारों नम आंखों ने दी अंतिम विदाई

  • कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने दी श्रद्धांजलि

  • मणिपुर नक्सली हमले में शहीद हुए थे कमल भाकुनी

Almora News: अल्मोड़ा जिले के सोमेश्वर निवासी शहीद कमल भाकुनी का पर्थिव शरीर सैन्य सम्मान के साथ आज पंचतत्व में विलीन हो गया। अल्मोड़ा के चनौदा के बुंगा गांव में जब शहीद के शव को लाया गया, तो पूरे गांव की आंखें आंसुओं से भर आईं। मात्र 24 साल की उम्र में मां भारती की रक्षा करते हुए अपने प्राणों की आहुति देने वाले कमल अपने पीछे अपनी मां और पिता को छोड़ गए हैं।

कैबिनेट मंत्री व सोमेश्वर विधायक रेखा आर्या ने शहीद कमल भाकुनी के पैतृक आवास पहुंचकर दी श्रद्धांजलि, कहा शहीद जवान के बलिदान को हमेशा रखा जाएगा याद।

उत्तराखंड सरकार की ओर से कैबिनेट मंत्री वसोमेश्वर विधायक रेखा आर्या अपनी सोमेश्वरविधानसभा के चनोदा स्थित ग्राम बूंगा पहुंची।यहां कैबिनेट मंत्री विगत दिनों नक्सली मुठभेड़में शहीद हुए 16 कुमाऊं रेजिमेंट में कार्यरतकमल भाकुनी के पैतृक निवास पहुंची जहांउन्होंने शहीद जवान के पार्थिव शरीर को नमनकर श्रद्धांजलि दी। इसके पश्चयात शहीद जवानके पार्थिव शरीर को आवास से लकड़ी पड़ावस्थित शमशान घाट ले जाया गया। जहां पूरे रास्तेमे स्वर्गीय जवान कमल भाकुनी अमर रहेंजयकार के नारों से समस्त क्षेत्र गुंजायमान होगया। इस दौरान हर एक व्यक्ति की आंखे नमदिखाई दीं।

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ने कहा कि नक्सली मुठभेड़ में अपने अदम्य साहस के साथ मातृभूमि की रक्षा के लिए वीरगति को प्राप्त होने वाले 16 कुमाऊं रेजीमेंट में कार्यरत कमल सिंह भाकुनी की शहादत को वह शत शत नमन करती हैं। कहा कि एक और जहां हमें अपने शहीद की शहादत पर गर्व है वहीं उन्हें खोने का भी बेहद दुःख है। उन्होंने ईश्वर से पुण्यात्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान देने तथा शोक संतप्त परिजनों को सम्बल प्रदान करने की प्रार्थना की।


Jago Pahad Desk

"जागो पहाड" उत्तराखंड वासियों को समाचार के माध्यम से जागरूक करने के लिए चलाई गई एक पहल है।

http://www.jagopahad.com