जैविक इण्डिया अवॉर्ड में उत्तराखंड को लगातार चौथी बार प्रथम पुरस्कार

ग्रेटर नोएडा में आयोजित इंडिया एक्सपो सेंटर एंड मार्ट में बीते गुरुवार को आयोजित जैविक कृषि के ग्लोबल लेवल 4th एवार्ड कार्यक्रम में हिमालय एवं पूर्वोत्तर राज्य की केटेगरी में उत्तराखण्ड प्रदेश ने प्रथम स्थान प्राप्त किया है। कार्यक्रम में कृषक हर्ष सिंह डंगवाल, ग्राम – सुनकिया, ब्लॉक- धारी, नैनीताल को इसी केटेगरी में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ। गौरतलब है कि राष्ट्रीय स्तरीय जैविक इण्डिया अवॉर्ड में उत्तराखंड को लगातार चौथी बार प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुआ है। जैविक उत्पाद के प्रबन्ध निदेशक विनय कुमार ने ग्रेटर नोएडा में यह पुरस्कार प्राप्त किया।

वहीं आज देहरादून स्थित कैंप कार्यालय में जैविक उत्पाद के प्रबन्ध निदेशक विनय कुमार ने प्रदेश के कृषि मंत्री गणेश जोशी को यह पुरुस्कार सौंपा। जिसपर कृषि मंत्री ने खुशी जताई। उन्होंने विश्वास जताते हुए कहा कि जो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संकल्प है कि किसानों की आय दुगनी की जाए उस दिशा में प्रदेश सरकार लगातार लगातार कार्य कर रही है। उसी का परिणाम है कि आज उत्तराखंड को जैविक कृषि के क्षेत्र में लगातार चौथी बार प्रथम पुरुस्कार से नवाजा गया है।मंत्री गणेश जोशी ने अधिकारियों बधाई दी और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का आभार व्यक्त किया।

मंत्री ने कहा लगातार चौथी बार जैविक में उत्तराखंड को हिमालय राज्यों में प्रथम पुरस्कार मिला है, उन्होंने कहा यह इस बात का संकेत है। मंत्री ने कहा आज उत्तराखंड 38 फ़ीसदी ऑर्गेनिक है। जब किसी उत्पाद के आगे ऑर्गेनिक लग जाता है, तो उसके दाम में भी इजाफा होता है। उन्होंने कहा जैविक खेती के लिए 2.23000 है० चिन्हित किया गया है। मंत्री ने विश्वास जताते हुए कहा कि जैविक खेती को वर्ष 2025 तक 38 फ़ीसदी से 50 फ़ीसदी तक ले जाया जाएगा और यह राज्य सरकार की एक बड़ी उपलब्धि होगी।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री के पूर्व सलाहकार, भास्कर खुल्बे, सचिव दीपेंद्र चौधरी, अपर सचिव रणवीर सिंह चौहान, महा प्रबंधक नाबार्ड सुमन कुमार, जैविक बोर्ड एमडी विनय कुमार आदि उपस्थित रहे।


JAGO PAHAD

Jago Pahad Desk

"जागो पहाड" उत्तराखंड वासियों को समाचार के माध्यम से जागरूक करने के लिए चलाई गई एक पहल है।

http://www.jagopahad.com